श्याम तुम्हीं लिखवाते हो.....****

                                                 




                                                   
श्याम तुम्हीं लिखवाते हो..

.................................
श्याम तुम्हीं लिखवाते हो
तुम्हीं ये शब्द बनाते हो
       तेरी लीला कोई ना जाना
       तुम फूलों मैं हँसते गाते हो 
 श्याम तुम्हीं सब लिखवाते हो
श्याम तुम्हीं शब्द बनाते हो
       तुम्हारी महिमा देवों ने गायी  
       तुम गोपाल कहलाते हो 
श्याम तुम्हीं लिखवाते हो 
तुम्हीं शब्द बनाते हो
         तेरी लीला प्रभु जी कही ना जाये 
         तुम तो लीलाधर कहलाते हो
तेरी ही इच्क्षा ही, हम आकांक्षा
 आकांक्षा तुम्हीं जगाते हो

..........................................
                               आकांक्षा सक्सेना 
                   औरैया, उत्तर प्रदेश 
       ..


        

Comments

Post a Comment

Popular posts from this blog

एक अश्रुकथा / कथा किन्नर सम्मान की...

रोमांटिक प्रेम गीत.......

सेलेब टॉक : टीवी सैलीब्रिटीस 'इकबाल आजाद' जी का ब्लॉग इंटरव्यू |