उज्जवल प्रदेश बनाना है...

                                                 उज्वल प्रदेश बनाना है .....                         
                                                                                           




                                                     
.............................................................................
माननीय मुख्य मंत्री जी को समस्त उत्तर प्रदेशवासियों  
की तरफ से विनयपूर्ण प्रणाम ।

...............................................................................
                           *       ****     उज्वल प्रदेश *  ****
.............................................................................

कलयुग को सतयुग बनाना है 
हमें मानवता धर्म निभाना है 
भावी पीढ़ी को राम बनाना है ।।

मंथरा जैसी कुरीतियों को जड़ से मिटाना है 
हमें लक्ष्य पर ही निशाना लगाना है 
हमें सच्चाई का मार्ग अपनाना है।। 

भ्रष्टाचार जैसे रावन को आज मिटाना हैं 
अपने राष्ट्र को सुद्रण बनाना है 
चारों तरफ ज्ञान का प्रकाश फैलाना है ।।

रोतों को आज हँसाना है 
सभी के प्रति आदर-भाव जगाना है
हर रात को दिवस बनाना है ।।

अपने प्रदेश को पूर्ण साक्षर बनाना है 
अपने उत्तर प्रदेश को उज्वल प्रदेश बनाना है 
जन-जन तक ये सन्देश पहुँचाना है ।।

...............................................................................
अपने प्रदेश से सभी को लगाव होता है।.
बस इसी लगाव को शब्दों मैं पिरोकर एक संदेश रूप से जन-जन तक पहुँचाने का एक प्रयास है।....

यह 4-7-2004 मैं लिखी थी ।
                                               आकांक्षा सक्सेना 
                                                बाबरपुर जिला-औरैया 
                                                 उत्तर प्रदेश 
















...............................................................................
                                  धन्यवाद    

Comments

Popular posts from this blog

एक अश्रुकथा / कथा किन्नर सम्मान की...

रोमांटिक प्रेम गीत.......

सेलेब टॉक : टीवी सैलीब्रिटीस 'इकबाल आजाद' जी का ब्लॉग इंटरव्यू |