Saturday, October 13, 2012

HAMARE BHAI JI...









                                                 
हमारे भाई जी हमारे  दोस्त....
...............................................
आपका अर्थ सिर्फ आप से है
आपके व्यक्तित्व से है ||
आपके ज्ञान से है 
आपके परामर्श से है ||
आपके स्वरुप से है |
आपके स्वभाव से है ||
आपके गुणों से है |
आपके हुनर से है ||
आपकी ईमानदारी से है |
आपकी सच्चाई से है ||
भाई जी हैं आप हमारे
रिश्ते ये प्यारे विश्वास से हैं 
||भाई जी आपका अर्थ बस आप से  है ||
...............................................


          


                                                   






                                                           आकांक्षा सक्सेना
                                                           बाबरपुर औरैया
                                                            उत्तर प्रदेश
...........................................................................

1 comment:

  1. वैसे मुझे भी पता नहीं है कि इतनी सारी खूबिया है मेरे अंदर। लेकिन ये पता जरूर चला कि भाई को एक बहिन से ज्‍यादा कोई नहीं जान सकता। बहुत ही सुंदर लिखा है।बहुत बहुत धन्‍यवाद।

    ReplyDelete