जय माँ राधारानी






 प्रेम रूप माँ राधारानी 

........................




प्रेमपूर्ण माँ राधारानी 




अब तो सुन लो एक बात हमारी 



तुम हो प्यारे सावरे की धड़कन 



तुम से है क्या बात छिपानी 




        अब तो सुन लो ये बात हमारी 


        दर्शन  दे दो माँ राधारानी 


 जीवन भक्तों का दुखों से भरा 

दुनिया में बहती स्वार्थ की धारा 

भक्तों की नैया मझदार में है 

का दो सबका बड़ा पार ओ माँ 


         आ जाओ माँ ये अरज हमारी 

         सुन लो पुकार ओ ! बरसानेवाली 


तुम सारे जगत की माँ हो 

प्रेम रूप माँ शक्ति माँ हो 


ऋषियों मुनियों ने माँ ध्यान लगाया 

भक्तों ने हमेसा गुणगान तेरा गाया 


          अब आ भी जाओ जग माता 

           ये जन्म सुधारो जग माता 

...............................................
                              

                   *जय श्री राधेकृष्ण*
............................................................ 
          आकांक्षा सक्सेना 
          जिला - औरैया 
           उत्तर प्रदेश 

Comments

Popular posts from this blog

एक अश्रुकथा / कथा किन्नर सम्मान की...

रोमांटिक प्रेम गीत.......