Monday, August 10, 2015

समाजहित की भावना ही शिवत्व....





         सच्चा जलाभिषेक


भगवान शिव ही सत्य है|भगवान शिव हिमालय पर वाश करते हैं|हर तरफ वर्फ ही वर्फ फिर उनको जलाभिषेक प्रिय क्यों है ? सावन में तो वैसे भी पानी बहुत बरसता है| फिर क्यों है सावन में जलाभिषेक का
महत्व ? प्रकृति जो भगवान शिव की शक्ति है वह मनुष्य को यह समझाती है जिस तरह बादल बरस कर पूरी शिवमय धरती का समभाव से जलाभिषेक करते हैं|उसे हरा-भरा और सुन्दर बनाकर पूरे पर्यारण में सुगंधित घोल देते हैं|इसी प्रकार मनुष्य को भी जल के रूप में अपने अंहकार और बुराइयों को भगवान शिव को अर्पण कर देना और समाज में अच्छे कार्य करने का संकल्प लेना ही सच्ची शिव भक्ति होगी|समाजहित की भावना ही शिवत्व है|मनुष्य प्रेम और समभाव से अपने घर, समाज और देश को सुन्दर बनायें|यही सच्चा जलाभिषेक होगा|
     आइये स्रद्धा के इस सावन में समाजहित और राष्ट्रहित की भावना लेकर जीवन रूपी सफर को खूबसूरत और सुगम बनायें|




 ..........ऊँ नमः शिवाय...............

                                      आकांक्षा सक्सेना   
                                      जिला औरैया
                                      दिनांक 10/08/2015
                                      समय 11:40 am   
                                      दिन सोमवार                 


No comments:

Post a Comment