नायक - समाज और हम

समाज के समन्दर की मैं एक बूँद और प्रयास वैचारिक परमाणुओं को संग्रहित कर सागर की निर्मलता को बनाए रखना.

Thursday, August 27, 2015

नायक

   

रियल हीरो....


सही मानसिकता और समाजहित में कुछ नया करने जुनून ही आगे चलकर आपको रियल हीरो बना देता है|
दुनिया में उस परम शक्ति ने हम और आपको रियल हीरो होने के लिये ही भेजा है....पर  हम क्या बन गये हैं...सोचो ?
समाज और हम ब्लोग के जरिये समाजहित में एक छोटा कदम है....

आकांक्षा सक्सेना




3 comments: